Heritage Wine Better : आबकारी की प्रमुख सचिव ने हेरिटेज शराब की तारीफ में किसे घटिया शराब कहा!

विभाग की वीडियो कांफ्रेंसिंग में कही एक बात चर्चा का विषय बनी!

764

Heritage Wine Better : आबकारी की प्रमुख सचिव ने हेरिटेज शराब की तारीफ में किसे घटिया शराब कहा!

धार से छोटू शास्त्रीं की रिपोर्ट

Dhar : प्रदेश की प्रमुख सचिव (आबकारी) दीपाली रस्तोगी ने आज हेरिटेज शराब के प्रमोशन को लेकर वीसी (वीडियो कांफ्रेंसिंग) की। इस मीटिंग में कलेक्टर, जिला पंचायत के सीईओ और आबकारी आयुक्त सहित प्रदेश के सभी आबकारी अधिकारी भी उपस्थित हुए। इस वीसी में प्रमुख सचिव ने कुछ ऐसा कह दिया जो चर्चा का विषय बन गया।

प्रमुख सचिव ने हेरिटेज लिकर की तारीफ के पुल बांधे। उन्होंने कहा कि ये सौ रुपए वाली घटिया शराब नहीं एक लग्जरी शराब है। उन्होंने हेरीटेज शराब की तारीफ करते हुए जिस तरह घटिया शराब का उल्लेख किया, उससे ये सवाल उठा कि क्या प्रदेश में वास्तव में घटिया शराब बिक रही है। बता दें कि प्रदेश सरकार ने आदिवासियों की परंपरागत महुआ की शराब को ‘हेरिटेज शराब’ की तरह बेचना शुरू किया है।

प्रमुख सचिव ने अफसरों की मीटिंग में जिस तरह घटिया शराब की तुलना करते हुए महुआ की हेरिटेज शराब को लक्जरी बताया उससे आबकारी अफसर सकते में हैं। क्योंकि, उन्ही की विभाग की प्रमुख सचिव ने यह स्वीकार लिया कि प्रदेश में सौ रुपए वाली घटिया शराब बिक रही है। ऐसे में सवाल उठता है कि प्रदेश में कौनसी घटिया शराब बिक रही है जिसकी कीमत 100 रु है। इस शराब को कौन बेच रहा है और उसे बेचने का लाइसेंस किसने दिया! यदि वास्तव में बिक रही है, तो उसे रोकने के कोई प्रयास क्यों नहीं किए गए? उल्लेखनीय है कि पश्चिमी मध्यप्रदेश के आदिवासी बहुल जिलों में महुआ से परंपरागत शराब बनाई जाती है, जिसे सरकार ने हेरिटेज शराब के नाम से बेचने का फैसला किया है।

क्या इसी कथित घटिया शराब के कारण ही प्रदेश में गत 2 साल में भारी जनहानि हुई, जिसका प्रमुख सचिव वीडियो कांफ्रेंसिंग में उल्लेख कर रही थी! ये बात प्रमुख सचिव दीपाली रस्तोगी सहजता में हेरिटेज शराब की खूबियों बताते हुए कह गईं या फिर उनकी जानकारी में प्रदेश में घटिया शराब बिकने की जानकारी है!

बात चाहे कुछ भी हो, पर विभाग की सचिव की इस स्वीकारोक्ति को गंभीरता से लिया जाना चाहिए। उन्होंने जिस तरह घटिया शराब का उल्लेख उसकी कीमत बताते हुए किया वो चिंता की बात है। उन्होंने हेरिटेज शराब की तारीफ की कसीदे काढ़े उससे लग रहा है कि भविष्य में प्रदेश में हेरिटेज शराब उसी तरह बिकेगी, जैसे गोआ में वहां की परंपरागत शराब काजू फैनी बिकती है।

Author profile

धार के वरिष्ठ पत्रकार हैं|