बड़वानी में बेकाबू कोरोना, 3 माह की तुलना में जुलाई में 5 गुना मामले, सीएम शिवराज ने भी नाराज़गी जताई

बड़वानी में बेकाबू कोरोना, 3 माह की तुलना में जुलाई में 5 गुना मामले, सीएम शिवराज ने भी नाराज़गी जताई

मीडियावाला.इन।

बड़वानी से सचिन राठौर की रिपोर्ट

बड़वानी: बड़वानी में कोरोना बेकाबू होता जा रहा है। पिछले एक सप्ताह में जिस तेजी से कोरोना पॉजिटिव मामलों की बढ़ोतरी हुई है, उसे देखते हुए न सिर्फ प्रशासन बल्कि उसकी चिंता की लकीरें भोपाल तक देखी गई है। मुख्यमंत्री ने कोरोना की स्थिति की समीक्षा के दौरान इस बात का उल्लेख किया कि आखिर बड़वानी में तेजी से केस क्यों बढ़ रहे हैं और इसमें कौन लापरवाही बरत रहा है? समीक्षा के दौरान सीएम शिवराज ने पाया गया कि बड़वानी जिले में कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग में लापरवाही हुई है। इस बात को मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गंभीरता से लेते हुए जांच करने एवं दोषियों को दंडित करने के निर्देश दिए।

अगर हम बड़वानी जिले में कोरोना काल के दौरान आंकड़ों की बात करें तो आश्चर्यजनक आंकड़े सामने आ रहे हैं। शुरू के 3 महीने यानी अप्रैल, मई और जून में बड़वानी जिले में केवल 114 प्रकरण सामने आए थे। निमाड़ क्षेत्र के 4 जिलों खंडवा, बुरहानपुर, खरगोन और बड़वानी में सबसे कम संक्रमित मरीज बड़वानी में थे। जुलाई माह में आंकड़ा इतनी तेजी से बढ़ा कि 4 जिलों में खरगोन के बाद बड़वानी पॉजिटिव की संख्या में दूसरे नंबर पर आ गया। अगर हम अप्रैल से लेकर जुलाई तक 4 माह के आंकड़ों की बात करें तो अप्रैल माह में 26,  मई माह में 27, जून माह में 62 और जुलाई माह में 585 पॉजिटिव मरीज पाए गए। जुलाई माह में भी आखरी सप्ताह में आंकड़ा एक दिन में 100 को पार कर गया। इन आंकड़ों से साफ जाहिर है कि कहीं म कहीं कोई गड़बड़ी या लापरवाही हो रही है।

4 अप्रैल को जिले के सेंधवा में पहला पॉजिटिव मरीज पाया गया था। उसके बाद 13 मई तक सभी कोरोना पॉजिटिव मरीज हुए थे। 15 मई फिर सेंधवा में कोरोना पॉजिटिव मरीज पाया गया था। पहले जहां बड़वानी और सेंधवा में पॉजिटिव मरीज पाए गए थे अब जिले के लगभग हर छोटी बड़ी जगह पर पॉजिटिव केसेस मिल चुके है। छोटे स्थानों पर भी लगातार कोराना  पैर पसार रहा है।

उम्मीद की जाना चाहिए कि मुख्यमंत्री की नाराजगी के बाद प्रशासन अब सचेत हो जाएगा और ऐसी योजना और रणनीति पर काम करेगा जिससे बड़वानी जिले को इस महामारी से निजात मिलने में मदद मिलेगी।

RB

0 comments      

Add Comment